HP E-Udyan Portal | ई-उद्यान पोर्टल, @eudyan.hp.gov.in

HP E-Udyan Portal | ई-उद्यान पोर्टल | Registration at HP eUdyan Portal | HPHDP Portal | HPHDP Online Registration | ई-उद्यान पोर्टल ऑनलाइन आवेदन | @eudyan.hp.gov.in  

हिमाचल प्रदेश सरकार बागवानी (किसानों) के लिए एक नया यूडियन पोर्टल (www.eudyan.hp.gov.in) और ई-उदयन मोबाइल ऐप शुरू किया है। अब किसान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और बागवानी सेवाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए एचपी ई-उदयन पोर्टल या ऐप पर आवेदन पत्र भर सकते हैं। इस नए एकीकृत बागवानी क्षेत्र प्रबंधन प्रणाली (IHSMS) में बागवानी किसान पंजीकरण फॉर्म भरने की प्रक्रिया सरल और परेशानी मुक्त है। यह पोर्टल का उदेश्य हिमाचल प्रदेश लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत नागरिक चार्टर के अनुसार काम करना है।

उल्लिखित बागवानी सेवाओं के लिए किसान eudyan.hp.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। नया ई-उदयन पोर्टल और ऐप हिमाचल प्रदेश के बागवानी विभाग के अधिकारियों के लिए ऑनलाइन प्रसंस्करण सुविधा भी प्रदान करेगा। eUdyan पोर्टल / ऐप किसानों को समय पर डिलीवरी प्रदान करने में सक्षम करेगा।

eUdyan पोर्टल एकल खिड़की पोर्टल के रूप में कार्य करेगा जहां किसान अपने घर पर बैठकर बागवानी खेती सेवा का लाभ उठा सकेंगे। अब HP E-Udyan पोर्टल पर उपलब्ध सेवाओं की सूची, HPHDP, बागवानी खेती सेवाओं के बारे में जाँच करें, जिसके लिए किसान ऑनलाइन और पूर्ण विवरण हिंदी में आवेदन कर सकते हैं।



Table of Contents

Registration at HP eUdyan Portal | HP eUdyan पोर्टल रजिस्ट्रेशन

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट http://www.eudyan.hp.gov.in/ पर जाएं।
  • होमपेज पर, बागवानी किसान पंजीकरण फॉर्म खोलने के लिए मुख्य मेनू में मौजूद “साइन अप” लिंक पर क्लिक करें: –
  • यहां आवेदक आधार नंबर, जन्म तिथि, मोबाइल नंबर, अपलोड फोटो, पता विवरण और लॉगिन विवरण सहित व्यक्तिगत विवरण दर्ज करे|
  • अंत में, आवेदक ईयूडीएन एचपी पोर्टल पर बागवानी किसान पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए “सबमिट” बटन पर क्लिक करे|

List of Services Available Online at HP E-Udyan Portal | सुविधाए

  • आपकी एप्लिकेशन स्थिति
  • सार्वजनिक शिकायत
  • सब्सिडी के लिए आपकी पात्रता की जाँच करें
  • PCDO स्थान

About Himachal Pradesh Horticulture Development Project (HPHDP)

उच्च मूल्य बागवानी वस्तुओं के उत्पादन और आपूर्ति के लिए हिमाचल प्रदेश मजबूत तुलनात्मक लाभ और क्षमता प्रदर्शित करता है। राज्य की कृषि में उच्च मूल्य वाली बागवानी वस्तुओं का बोलबाला है, जो लगभग 44% फसली क्षेत्र में है और लगभग 48% कृषि सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) में योगदान करती है। एचपी में बागवानी रोजगार, मजदूरी और गरीबी में कमी के कई सकारात्मक परिणामों के लिए जिम्मेदार है।

हिमाचल प्रदेश में बागवानी के विकास की परिकल्पना विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित हिमाचल प्रदेश बागवानी विकास परियोजना की सहायता से की गई है। एचपीएचडीपी का लक्ष्य हिमाचल प्रदेश में छोटे किसानों और कृषि-उद्यमियों का समर्थन करना है, ताकि चयनित बागवानी जिंसों की उत्पादकता, गुणवत्ता और बाजार तक पहुंच बढ़ाई जा सके। दृष्टि प्राप्त करने के लिए, HPHDS ने HPHDP के तहत एकीकृत बागवानी क्षेत्र प्रबंधन प्रणाली (IHSMS) के कार्यान्वयन की परिकल्पना की है।

Read More...  राजस्थान सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना | Rajasthan Social Security Pension Yojana Apply Online

Official Website:  http://www.eudyan.hp.gov.in/Department/Portal/About.aspx

eUdyan Himachal Mobile App Download

  • https://play.google.com/store/apps/details?id=com.hphds.reg.eudyan
  • हिमाचल प्रदेश eUdyan ऐप खोलने के लिए “इंस्टॉल” बटन पर क्लिक करें। यह ऐप 18 एमबी का है|

पहाड़ी क्षेत्रों में कृषि की स्थायी प्रणाली के विकास के लिए प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करके बागवानी के वैज्ञानिक विकास के माध्यम से एक समृद्ध हिमाचल के निर्माण के उद्देश्य से राज्य बागवानी विभाग कार्य करता है। यह विभाग सितंबर 1970 में अस्तित्व में आया।

किसानों द्वारा संयुक्त राज्य सरकार की बागवानी के विकास के लिए व्यावहारिक नीतियों के परिणामस्वरूप हिमाचल प्रदेश के बागवानी उद्योग में परिवर्तन हुआ है। राज्य ने भारत के Apple राज्य होने का गौरव प्राप्त किया है।




बागवानी खेती सेवा के लिए कौन ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं

1) फल नर्सरी पंजीकरण।
2) पौधों की मांग।
3) बागवानी संबंधी उपकरणों की आवश्यकता।
4) कीटनाशकों की खरीद।
5) मशरूम की कम्पोस्ट की माँग।
6) मधुमक्खी के छत्ते की मांग।
7) अन्य बागवानी सेवाएँ।

सरकारी योजनाओं की ताज़ा खबरें – Sarkari Yojana Latest Updates के लिए हमारे वेबसाईट पर Regular विजिट करे और ज्यादा से ज्यादा लोगो को share करे.