PMJAY | Pradhanmantri Ayushman Bharat Yojana | आयुष्मान भारत योजना लिस्ट

Ayushman Bharat Yojana जन आरोग्य योजना 2020 के अंतर्गत देश के आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवारों को 5 लाख रूपये तक का स्वास्थ्य बीमा केंद्र सरकार की तरफ से प्रदान किया जा रहा है जिससे लोग  अपनी बीमारी का अस्पतालों में 5 लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते है. Jan Arogya Card | Ayushman Bharat Yojana in Hindi | Download Ayushman Bharat Golden Card | आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (PMJAY) का उद्देश्य 

आयुष्मान भारत योजना लिस्ट को केंद्र सरकार द्वारा ऑनलाइन पोर्टल पर जारी कर दिया गया है । देश के जिन लोगो में आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य बीमा का लाभ उठाने के लिए आवेदन(People who applied for availing health insurance under Ayushman Bharat Scheme )  किया है वह ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन लाभार्थी सूची में अपना नाम(He can see his name in the online beneficiary list by visiting the official website ) देख सकते है ।आप प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना नई लाभार्थी सूची Pdf डाउनलोड भी कर सकते है । आज हम आपको आयुष्मान भारत योजना सूची ऑनलाइन जाँचने की आसान प्रक्रिया प्रदान करने जा रहे हैं अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े ।

Ayushman Bharat Yojana New List 

अगर आपका और आपके  परिवार का नाम इस प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना लिस्ट में सम्मिलित है तो आप चिकित्सा उपचार के लिए किसी भी सूचिबद्ध अस्पताल में प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक का लाभ उठा सकते हैं । देश के इच्छुक लाभार्थी इस Ayushman Bharat Yojana New List 2020 में अपनी पात्रता की जांच करना चाहते है तो वह घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर सूची में अपना नाम  आसानी से देख सकते है ।देश के जिन लोगो का नाम आयुष्मान भारत योजना नई लाभार्थी लिस्ट 2020 में आएगा उन्ही ही 5 लाख रूपये तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान (Only those who will be named in this beneficiary list will be provided health insurance up to Rs 5 lakh.) किया जायेगा ।

क्या है Ayushman Bharat Yojana (ABY) का लक्ष्य?

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘प्रधानमंत्री जन आरोग्य’ योजना (आयुष्मान भारत योजना यानी ABY) की घोषणा की है.
  • सरकार ABY के माध्यम से गरीब, उपेक्षित परिवार और शहरी गरीब लोगों के परिवारों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराना चाहती है.
  • सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC) 2011 के हिसाब से ग्रामीण इलाके के 8.03 करोड़ परिवार और शहरी इलाके के 2.33 करोड़ परिवार आयुष्मान भारत योजना (ABY) के दायरे में आयेंगे. इस तरह PM-JAY के दायरे में 50 करोड़ लोग आएंगे.
  • आयुष्मान भारत योजना (ABY) में हर परिवार को सालाना पांच लाख रुपये का मेडिकल इंश्योरेंस मिल रहा है.



Ayushman Bharat Yojana में किसे मिल रहा है कवरेज?

  • मोदी सरकार की कोशिश यह है कि महिला, बच्चे और सीनियर सिटीजन को ABY में खास तौर पर शामिल किया जाय.
  • Ayushman Bharat Yojana में शामिल होने के लिए परिवार के आकार और उम्र का कोई बंधन नहीं है.
  • सरकारी अस्पताल और पैनल में शामिल अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना (ABY) के लाभार्थियों का कैशलेस/पेपरलेस इलाज हो सकेगा.

ABY की योग्यता का निर्धारण कैसे होता है?

  • SECC के आंकड़ों के हिसाब से आयुष्मान भारत योजना (ABY) में लोगों को मेडिकल इंश्योरेंस मिल रहा है.
  • SECC के आंकड़ों के हिसाब से ग्रामीण इलाके की आबादी में D1, D2, D3, D4, D5 और D7 कैटेगरी के लोग आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल किये गए हैं.
  • शहरी इलाके में 11 पूर्व निर्धारित पेशे/कामकाज के हिसाब से लोग आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल हो सकते हैं. राज्यों में राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना में पहले से शामिल लोग खुद ही आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल हो गए हैं.

ग्रामीण इलाके के लिए ABY की योग्यता

आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल होने के लिए मोटे तौर पर ये योग्यता हैं:

  • ग्रामीण इलाके में कच्चा मकान,
  • परिवार में किसी व्यस्क (16-59 साल) का नहीं होना
  • परिवार की मुखिया महिला होना.
  • परिवार में कोई दिव्यांग हो,
  • अनुसूचित जाति/जनजाति से हों और भूमिहीन व्यक्ति/दिहाड़ी मजदूर
  • इसके अलावा ग्रामीण इलाके के बेघर व्यक्ति, निराश्रित, दान या भीख मांगने वाले, आदिवासी और क़ानूनी रूप से मुक्त बंधुआ आदि खुद आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल हो जायेंगे.

शहरी इलाके के लिए ABY की योग्यता

Ayushman Bharat Yojana में शामिल होने के लिए मोटे तौर पर ये योग्यता हैं:

  • भिखारी, कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कामकाज करने वाले, रेहड़ी-पटरी दुकानदार, मोची, फेरी वाले, सड़क पर कामकाज करने वाले अन्य व्यक्ति.
  • कंस्ट्रक्शन साईट पर काम करने वाले मजदूर, प्लंबर, राजमिस्त्री, मजदूर, पेंटर, वेल्डर, सिक्योरिटी गार्ड, कुली और भार ढोने वाले अन्य कामकाजी व्यक्ति
  • स्वीपर, सफाई कर्मी, घरेलू काम करने वाले, हेंडीक्राफ्ट का काम करने वाले लोग, टेलर, ड्राईवर, रिक्शा चालक, दुकान पर काम करने वाले लोग आदि आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल होंगे.

ABY में अस्पताल में भर्ती की प्रक्रिया 

  • आयुष्मान भारत योजना (ABY) का लाभार्थी अस्पताल में एडमिट होने के लिए कोई चार्ज नहीं चुकाएगा.
  • अस्पताल में दाखिल होने से लेकर इलाज तक का सारा खर्च इस योजना में कवर किया जायेगा.आयुष्मान भारत योजना (ABY) के लाभ में अस्पताल में दाखिल होने से पहले और बाद के खर्च भी कवर किये जायेंगे.
  • पैनल में शामिल हर अस्पताल में एक आयुष्मान मित्र होगा. वह मरीज की मदद करेगा और उसे अस्पताल की सुविधाएं दिलाने में मदद करेगा.
  • अस्पताल में एक हेल्प डेस्क भी होगा जो दस्तावेज चेक करने, स्कीम में नामांकन के लिए वेरिफिकेशन में मदद करेगा.
  • आयुष्मान भारत योजना में शामिल व्यक्ति देश के किसी भी सरकारी/पैनल में शामिल निजी अस्पताल में इलाज करा सकेगा.

क्या-क्या हैं ABY में शामिल?

  • आयुष्मान भारत योजना (ABY) में तकरीबन हर बीमारी के लिए चिकित्सा और अस्पताल में दाखिल होने का खर्च कवर है.
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने आयुष्मान भारत योजना (ABY) में 1354 पैकेज शामिल किये हैं.
  • इसमें कोरोनरी बायपास, घुटना बदलना और स्टंट डालने जैसे इलाज शामिल हैं.
  • आयुष्मान भारत योजना (ABY) में इलाज का खर्च केंद्र सरकार की स्वास्थ्य योजना (CGHS) से 15-20 फीसदी कम है.



ABY के लाभार्थी की योग्यता क्या है?

  • एक बार योग्य होने पर आप सीधे इलाज करा सकते हैं. सरकार द्वारा चिन्हित परिवारों के लोग ABY में शामिल हो सकते हैं.
  • केंद्र सरकार सभी राज्य सरकार और इलाके की अन्य संबंधित एजेंसियों के साथ ABY के लिहाज से योग्य परिवार की जानकारी साझा करेगी. उसके बाद इन परिवारों को एक फैमिली आइडेंटिफिकेशन नंबर मिलेगा. लिस्ट में शामिल लोग ही आयुष्मान भारत योजना (ABY ) का लाभ उठा सकते हैं.
  • जिन लोगों के पास 28 फरवरी 2018 तक राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का कार्ड होगा, वे भी आयुष्मान भारत योजना (ABY ) का लाभ उठा सकते हैं.

किस अस्पताल में होगा ABY के लाभार्थी का इलाज?

सभी सरकारी अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना (ABY) के लाभार्थी इलाज करा सकते हैं. इसके साथ ही सरकार के पैनल में शमिल निजी अस्पताल में भी ABY के लाभार्थी इलाज करा सकते हैं.

पैनल में शामिल होने के लिए निजी अस्पताल में कम से कम 10 बेड और इसे बढ़ाने की क्षमता होनी चाहिए.

लाभार्थी सरकार द्वारा ABY के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर पर भी कॉल कर सकते हैं: 14555

ज्यादा जानकारी के लिए Official Website पर जाये.

सरकारी योजनाओं की ताज़ा खबरें – Sarkari Yojana Latest Updates के लिए हमारे वेबसाईट पर Regular विजिट करे और ज्यादा से ज्यादा लोगो को share करे.

Leave a Comment